सदर तहसील परिसर में पानी पहुंचाने के लिए किया गया अस्थाई बोर लगाया गया 3 हॉर्स पावर का मोटर

1 हफ्ते से 1 तहसील कर्मचारियों को टैंकर से पहुंचाया जा रहा था पानी

स्थाई बोर दुरुस्त होने का नहीं दिखाई दे रही कोई संभावना

गोरखपुर। जल नहीं तो जीवन नहीं तहसील कर्मचारी 1 हफ्ते तक चलाएं टैंकरों से पानी का कार्य सदर तहसील परिसर में जल निगम द्वारा लगाए गए नलकूप का बोर 300 फीट नीचे पाइप झंजर होकर घरों में पानी के साथ कीचड़ पहुंच रहा था जल कल कर्मचारियों ने काम चलाऊ अस्थाई बोरकर 3 हॉर्स पावर का मोटर लगा दिया जिससे तहसील कर्मचारियों को अस्थाई तौर पर पानी काम चलाऊ मिलता रहे सदर तहसील परिसर में लगाए गए स्थाई पंप से 3 महीनों से बालू के साथ पानी निकल रहा था लेकिन कर्मचारियों का किसी तरीके से काम चल रहा था 18 जून को अत्यधिक कीचड़ के साथ पानी निकलने लगा जिसकी शिकायत सदर तहसील कर्मचारियों ने ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/ एसडीएम सदर नेहा बंधु व सदर तहसीलदार विकास कुमार सिंह से किया अपने कर्मचारियों को पानी की समस्याओं का निदान करने के लिए तहसील अधिकारियों ने नगर आयुक्त को अवगत कराया नगर आयुक्त ने तत्परता दिखाते हुए जलकल महाप्रबंधक अमरनाथ को तहसील परिसर में लगाए गए पंप को दुरुस्त कर कर्मचारियों को शुद्ध जल उपलब्ध कराने का निर्देश दिया जलकल कर्मचारियों द्वारा प्रयास करने के बाद भी लगाए गए पंप हाउस से साफ पानी नहीं निकाला जा सका क्योंकि 300 फीट नीचे बोर किए गए पाइप क्षतिग्रस्त हो गया था कर्मचारियों को 1 हफ्ते तक जलकल के टैंकर से पानी उपलब्ध कराया जाता रहा जलकल के कर्मचारियों द्वारा बोर को दुरुस्त करने की कोई संभावना दिखाई नही दी तो अधिकारियों के निर्देश पर 3 हॉर्स पावर का मोटर लगाकर पानी की टंकी तक पहुंचाया जा रहा जिससे कर्मचारियों को काम चलाऊं पानी मिल सके पूर्ण रूप से बोर दुरुस्त होने में कितना समय लगेगा यह कर्मचारी केवल गिनती गिनते जाएं जब काम चलाऊ अस्थाई बोरकर पानी उपलब्ध कराया जा रहा तो पूर्ण रूप से बोर होने की कोई संभावना दूर-दूर तक दिखाई नहीं दे रही बैरल कर्मचारियों को अस्थाई तौर पर बोर कर जलकल विभाग के कर्मचारियों द्वारा सदर तहसील कर्मचारियों को पानी पहुंचाने का कार्य तो कर दिया गया जिससे तहसील कर्मचारियों के बच्चे स्कूल खुलने पर अपने मम्मी पापा के पास आकर पढ़ाई कर सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *