उत्तर प्रदेशUP में इतनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेस, अखिलेश यादव ने खुद किया खुलासा

क्राइम मुखबिर से उप संपादक रतन गुप्ता की रिपोर्ट

UP में इतनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेस, अखिलेश यादव ने खुद किया खुलासा।
सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने एक ट्वीट के जरिए कांग्रेस को सीट देने की बात का खुलासा किया है। इसके साथ ही उन्होंने इसे गठबंधन के साथ एक अच्छी शुरुआत बताया है।

अखिलेश यादव ने कांग्रेस को दी 11 सीटें

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने एक ट्वीट के जरिए कांग्रेस को सीट देने की बात का खुलासा किया है। काफी लंबे समय से इस बात पर चर्चाएं चल रही थीं कि यूपी में अखिलेश यादव कांग्रेस को कितनी सीटें देंगे। इस बात से आज अखिलेश यादव ने पर्दा हटा दिया है। इसके साथ ही अखिलेश यादव ने ये भी तय कर दिया है कि यूपी में समाजवादी पार्टी इंडिया गठबंधन के साथ ही चुनाव लड़ेगी। बता दें कि मायावती पहले ही गठबंधन से किनारा कर चुकी हैं। अखिलेश यादव ने यूपी में कांग्रेस को 11 लोकसभा सीटें देने की बात कही है।

अखिलेश यादव ने एक्स पर किया पोस्ट
अखिलेश यादव ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी है। आज शनिवार को उन्होंने एक पोस्ट में लिखा है कि ‘कांग्रेस के साथ 11 मजबूत सीटों से हमारे सौहार्दपूर्ण गठबंधन की अच्छी शुरुआत हो रही है। ये सिलसिला जीत के समीकरण के साथ और भी आगे बढ़ेगा। वहीं अब अखिलेश यादव के इस पोस्ट के बाद ये देखना होगा कि यूपी में कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी किन सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। क्योंकि पिछली बार साल 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी को करारी हार मिली थी। इस चुनाव में राहुल गांधी तक हार गए और कांग्रेस को सिर्फ एक सीट पर जीत मिली थी, जो कि सोनिया गांधी की सीट थी।


इंडिया गठबंधन के लिए संजीवनी
बता दें कि पिछले कई दिनों से चल रहे राजनीतिक घटनाक्रम के बीच इंडिया गठबंधन का टूटना तय माना जा रहा था, लेकिन इस बीच अखिलेश यादव के इस पोस्ट से इंडिया गठबंधन को एक बार फिर से जान मिली है। एक तरफ जहां पंजाब में आम आदमी पार्टी ने अकेले लोकसभा चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया तो वहीं पश्चिम बंगाल में भी ममता बनर्जी ने इंडिया गठबंधन से दूरी बना ली है। वहीं बिहार की बात करें तो यहां भी इंडिया गठबंधन संकट में नजर आ रही है। ऐसे में उत्तर भारत के कई राज्यों में जहां इंडिया गठबंधन संकट में था तो वहीं दिल्ली की गद्दी का रास्ता कहे जाने वाले उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव ने इंडिया गठबंधन को संजीवनी देने का काम किया है।

क्राइम मुखबिर
अपराध की तह तक !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *