नौतनवा के चौराहों पर ऑटो वालों ने बना लिया स्टैंड, जाम ने रोकी वाहनों की रफ्तार

क्राइम मुखबिर से उप संपादक रतन गुप्ता की रिपोर्ट

नौतनवा से ऑटो बाहर नहीं करने में हुई लापरवाही का नतीजा आम आदमी को भुगतना पड़ रहा है। जाम में फंसने के बाद लोगों का जरूरी समय बर्बाद हो रहा है और लोग अधिकारियों को कोस रहे हैं।

नौतनवा में जाम की सबसे बड़ी वजह चौराहों पर खड़े होने वाले ऑटो ,ई,रिक्शा ही है। गुरुवार को हर तरफ जाम लगा रहा और लोग परेशान दिखे। ऑटो को व्यवस्थित करने के लिए कवायद तो कई बार की गई, लेकिन आज तक इसपर काम नहीं हो सका है, जिस वजह से आज भी चौराहों पर ऑटो वाले जबरन स्टैंड बना लिए हैं। लोग जाम में फंसकर परेशान होते हैं।


नौतनवा से ऑटो बाहर नहीं करने में हुई लापरवाही का नतीजा आम आदमी को भुगतना पड़ रहा है। जाम में फंसने के बाद लोगों का जरूरी समय बर्बाद हो रहा है और लोग अधिकारियों को कोस रहे हैं। नगरपालिका ने कस्बे से ऑटो को बाहर करने की योजना बनाई थी, लेकिन इस पर अमल नहीं हुआ। इसके साथ यातायात पुलिस की व्यवस्था में खामियों से जाम लग रहा है।

दोपहर 1:15 बजे
ठुठीबारी चौराहे पर 100 से अधिक वाहनों के पहिए रेंग रहे थे। ऑटो चालकों ने सड़क के किनारे ऑटो खड़ा कर दिया था। इस कारण साइड लेन से निकलने वाले लोगों को भी फंसना पड़ा। इस मौके पर यातायात पुलिस सिपाही भी थे, लेकिन वाहनों को आगे बढ़ने का इशारा करने के साथ ऑटो पर ध्यान नहीं दे रहे थे।

दोपहर 3:30 बजे
जनता चौक चौराहे पर रेलवे मालगोदाम से टको के आने से लंबा जाम लग गया था। इस कारण 300 से अधिक वाहन जाम में फंस गए थे। सिपाही जाम हटाने की कोशिश में लगे थे, लेकिन धीरे-धीरे ही वाहनों को निकलने की नौबत आ रही थी।

दोपहर 1:30 बजे
जय हिन्द चौराहा पर सड़क पर एक साथ इतने ऑटो चलने लगे कि जाम की नौबत बन गई। ऑटो चालक इसी बीच में सवारियां भी बैठा रहे थे। यहीं कारण था कि कार के साथ दोपहिया सवार भी जाम फंस रहे थे। चौराहे पर सिपाही नहीं थे।

दोपहर 2:00 बजे
अस्पताल चौक पर तीन ओर से आने वाले ऑटो के कारण जाम लगने लगा। इसकी वजह यह रही है कि वहां पर ऑटो चालक सड़क के किनारे वाहन खड़ा कर दिए थे। सवारियां उतारने के साथ बैठाने के लिए भी वे इंतजार कर रहे थे। नौतनवा मे आटो और ई रिक्शा के कारण जाम लग रहे ।

क्राइम मुखबिर
अपराध की तह तक !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *