एच 3, एन 2 वायरस को बडने से रोकने के लिए मुख्य सचिव ने किया वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग

गोरखपुर।देश के अनेक राज्यों के साथ ही राज्य के कुछ जिलाे में फ्लू सदृश्य लक्षणों वाले इन्फ्ल्यूूएंजा एएच 3 एन 2 के मरीजों में बढ़ोतरी को देखते हुए मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने लखनऊ से वीडियो कांफ्रेंसिंग कर जिले के आला अधिकारियों को अपने अपने दायित्वों का निर्वहन करते हुए सतर्क रहने का निर्देश दिया है जिससे एच 3, एन 2 वायरस को रोका जा सके इन्फ्ल्यूूएंजा एएच 3 एन 2 का संक्रमण किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकता है और संक्रामक होने के कारण यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक फैल सकता है। इस बीमारी से 1 से 5 वर्ष के आयु वर्ग के बच्चे, 65 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के नागरिक, गर्भवती माता, डायबिटीज एवं ब्लड प्रेशर के मरीज इससे अधिक प्रभावित हो सकते है। इसके लक्षणों में बुखार आना, गले मंे दर्द, खांसी, सर्दी, बदन दर्द, सिर दर्द जैसे लक्षण ही दिखाई पड़ते है।
इन्फ्ल्यूूएंजा एएच 3 एन 2 से बचाव के छींक एवं खासते समय मुंह ढंकने, बार-बार साबुन एवं स्वच्छ पानी से हाथ धोने, पौष्टिक आहार लेने, नींबू, आवला, मोसंबी, हरी सब्जियां का अधिक सेवन करने, ध्रूमपान न करने, भरपुर पानी पीने, अलग रहने एवं पर्याप्त निंद लेना प्रमुख है।
संक्रमण रोकने के लिए हाथ मिलाना टालने, स्वयं की आंख, नाक एवं मुंह को स्पर्श करने से बचने, टीशु पेपर का पुन: उपयोग टालने, सार्वजनिक स्थानांे पर नहीं थूकने, डाक्टर की सलाह के बिना दवाएं न लेने एवं भीड़ के स्थानांे पर न जाए की सलाह दी गई है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में प्रमुख रूप से एडीजी जोन अखिल कुमार मंडलायुक्त रवि कुमार एनजी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ गौरव ग्रोवर अपर आयुक्त अजय कांत सैनी सीडीओ संजय कुमार मीना सीएमओ आशुतोष दुबे सहित स्वास्थ्य विभाग के संबंधित अधिकारी व अन्य मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *