56 जिलों में बच्चों को दी जाएगी पेट में कीड़े मारने की दवा, 10 फरवरी से चलेगा अभियान


रिपोर्टर रतन गुप्ता 28Jan 2023

प्रदेश के 56 जिलों में 10 फरवरी से कृमि मुक्ति अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए तीन चरणों में एक साल से 19 साल की उम्र तक के 7.15 करोड़ बच्चे व किशोरों को पेट में कीड़े मारने की दवा खिलाई जाएगी।

अभी तक प्रदेश में एक दिन का अभियान चलाया जाता था, लेकिन अब इसे तीन चरणों में चलाने की योजना है। इसमें स्वास्थ्य विभाग के साथ शिक्षा और पंचायती राज समेत 11 विभागों की मदद ली जाएगी। स्थानीय आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की मदद से एक वर्ष से पांच वर्ष तक के बच्चों को दवा दी जाएगी। स्वास्थ्य विभाग की टीम स्कूलों में छह से 19 वर्ष तक के किशोरों को दवा खिलाएगी। इसमें संबंधित स्कूल के शिक्षकों को भी जोड़ा जाएगा। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के महाप्रबंधक डॉ. वेद प्रकाश ने बताया कि यह दवा चबाकर खानी है। टीम दवा अपने सामने खिलाएगी। किसी भी बच्चे या परिजन को बाद में खाने के लिए नहीं दी जाएगी।

उन्होंने बताया कि सर्दी, खांसी, बुखार व सांस लेने में तकलीफ होने पर दवा नहीं दी जाएगी। यदि बच्चे या परिवार के सदस्य को कोविड संक्रमण है तो क्वारंटीन अवधि समाप्त होने के बाद ही दवा खिलाई जाएगी। इसके लिए उत्तर प्रदेश मेडिकल सप्लाई कॉरपोरेशन ने सभी जिलों में दवाएं भेज दी हैं। अतिरिक्त खुराक की जरूरत होने पर सीएमओ को तत्काल जानकारी देनी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *