पौधारोपण से संभव है जलवायु सुधार संतुलन हेतु पौधारोपण जरूरी

महराजगंज जनपद के भारतीय स्टेट बैंक के 68वें स्थापना दिवस पर आयोजित पौधारोपण कार्य । प्रभावती देवी मोतीप्रसाद स्नातकोत्तर महाविद्यालय बेलवा टीकर में पौधारोपण करते एस0बी0 आई0 पुरैना शाखा के शाखा प्रवन्धक ललित नारायण संस्था के प्रवन्धक व प्राचार्य जागरण संवाददाता,शिकारपुर: पेड़-पौधे हमारे जीवन के आधार हैं।ये हमें प्राणवायु आक्सीजन गैस प्रदान करते हैं।इसी की वजह से हम जीवित हैं। इनके बिना जीवन की कल्पना करना बेमानी है। अतएव सर्व समाज के लोगों को अधिकाधिक पौधारोपण करना चाहिए।क्योंकि पौधारोपण से ही जलवायु सुधार भी संभव है। यह बातें भारतीय स्टेट बैंक के 68 वें स्थापना दिवस के अवसर पर शनिवार को स्थानीय प्रभावती देवी मोतीप्रसाद स्नातकोत्तर महाविद्यालय बेलवाटीकर में आयोजित पौधारोपण कार्यक्रम में भारतीय स्टेट बैंक की पुरैना शाखा के शाखा प्रबंधक ललित नारायण ने कही। संस्था के प्रवंधक डॉक्टर सुभाषचंद पांडेय ने कहा कि पेड़-पौधे जीव-जंतुओं द्वारा छोड़े गए कार्बन डाई ऑक्साइड को अवशोषित कर न सिर्फ ऑक्सीजन देते हैं बल्कि हमें फल,लकड़ी,फाइबर,रबर आदि भी और बहुत कुछ प्रदान करते हैं। प्राचार्य डॉ0 अभिषेक कुमार मिश्र ने कहा कि पौधे हैं तो ऑक्सीजन है और ऑक्सीजन है तो हम हैं। पेड़-पौधे बहु उपयोगी हैं।ये पशुओं व पक्षियों के आश्रय का भी काम करते हैं।श्री मिश्र ने कहा कि पौधारोपण के पीछे का मूल कारण वनों को बढ़ावा देना, भूनिर्माण और भूमि सुधार है।पृथ्वी पर परिस्थितिक संतुलन बनाए रखने के लिए वन अत्यंत महत्वपूर्ण हैं। इस मौके पर राजेश्वर तिवारी, नरेंद्र पांडेय,श्रवण विश्वकर्मा, हरिद्वार विश्वकर्मा, विमलेश पांडेय,रमेशचंद पटेल, मुकेश शर्मा, राजेश शर्मा, अमरनाथ पटेल सहित सभी शिक्षक व कर्मचारी गण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *