सीएम योगी ने सुना जनता का दर्द, दिया ये भरोसा

रिपोर्टर डा राज कुमार मिश्र
25 जनवरी 2023

गोरखपुर में सीएम योगी आदित्यनाथ ने जनता की समस्याएं सुनीं. इस दौरान उन्होंने क्या कुछ कहा चलिए जानते हैं.
गोरखपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर दौरे में गोरखनाथ मंदिर में लगने वाले जनता दरबार की परंपरा को कायम रखते हुए बुधवार 25 जनवरी को फरियादियों से मुलाकात की.
सीएम ने उन्हें यह भरोसा दिलाया कि न्याय और मदद के लिए सरकार के द्वार हमेशा खुले हैं. कोई भी पीड़ित न्याय से वंचित नहीं होगा. हर परिस्थिति में शिक्षा, स्वास्थ्य, शादी ब्याह में सरकार जरूरतमंदों के साथ खड़ी है.

उन्होंने दिन की शुरुआत जनता की समस्याओं को सुनने और उसके निस्तारण की प्रक्रिया से की. बुधवार सुबह ठंड और कोहरे के बीच फरियादी मंदिर पहुंचे. जनता दर्शन में पहुंचे फरियादियों से मुलाकात कर मुख्यमंत्री ने उनकी समस्याओं के त्वरित व संतुष्टिपरक समाधान का भरोसा दिया. आश्वस्त किया कि उनके रहते किसी के साथ नाइंसाफी नहीं होगी और न ही किसी की दवाई-पढ़ाई में धन की बाधा आने दी जाएगी.

मुख्यमंत्री ने जनता दर्शन में करीब तीन सौ के करीब लोगों की फरियाद सुनी. सभी के प्रार्थनापत्रों को संबंधित अधिकारियों को संदर्भित करते हुए त्वरित और संतुष्टिपरक निस्तारण के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि सरकार हर पीड़ित की समस्या के निस्तारण के लिए संकल्पित है. कुर्सियों पर बैठाए गए फरियादियों तक मुख्यमंत्री खुद पहुंचे और एक-एक फरियादी से मिलकर उनकी समस्याओं को इत्मीनान से सुना.फरियादियों में महिलाओं की संख्या अधिक रही. इस दौरान उच्च शिक्षा के लिए आर्थिक मदद की गुहार लेकर आई एक बिटिया को मुख्यमंत्री ने भरोसा दिया कि पैसे के अभाव में उसकी मनचाही पढ़ाई बाधित नहीं होने दी जाएगी.

मुख्यमंत्री के समक्ष जनता दर्शन में कई फरियादी इलाज के लिए आर्थिक सहायता की गुहार लेकर पहुंचे थे. सीएम योगी ने उन्हें आश्वस्त किया कि सरकार इलाज के लिए भरपूर मदद करेगी. राजस्व व पुलिस से जुड़े मामलों को उन्होंने पूरी पारदर्शिता व निष्पक्षता के साथ निस्तारित करने के निर्देश दिए. सीएम ने कहा कि किसी के साथ अन्याय नहीं होना चाहिए. यदि कोई किसी की भूमि पर जबरन कब्जा कर रहा हो तो उसे कानून सम्मत सबक सिखाया जाए. हर पीड़ित के साथ संवेदनशील व्यवहार अपनाते हुए उसकी मदद की जाए.

जनता दर्शन से पूर्व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की दिनचर्या गुरु गोरक्षनाथ के दर्शन पूजन व अपने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की समाधि पर मत्था टेकने के साथ शुरू हुई. सीएम योगी हर बार की तरह मंदिर परिसर का भ्रमण करते हुए गोशाला भी गए और गोसेवा करते हुए गोवंश को अपने हाथों से गुड़ चना खिलाकर उन्हें दुलार दिया. सीएम के जनता दरबार में उनके साथ उनके सहयोगी और प्रशासन की तरफ से सभी प्रमुख जिम्मेदार अधिकारी मौजूद रहे.
गोरखनाथ मंदिर में जनता दर्शन में लोगों से मुलाकात करने के बाद, मुख्यमंत्री हरिहर प्रसाद दूबे मार्ग बेतियाहाता स्थित वरिष्ठ अधिवक्ता हरिप्रकाश मिश्रा के आवास पहुंचे. उनके बड़े भाई ओमप्रकाश मिश्रा का शुक्रवार को निधन हो गया था. मुख्यमंत्री ने उनके चित्र पर पुष्प चढ़ाकर श्रद्धांजलि दी. परिजनों से मुलाकात कर दुख की घड़ी में सांत्वना दी. इसके बाद योगी तारामंडल, सिद्धार्थ एंक्लेव स्थित वरिष्ठ पत्रकार राजीव ओझा के आवास पर गए. ओझा के पिता शंकर दयाल ओझा का 20 जनवरी को निधन हो गया था. मुख्यमंत्री ने उनके चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए. योगी ने राजीव ओझा समेत सभी परिवारीजन से मुलाकात कर कुशलक्षेम जाना और सांत्वना दी. सीएम आज शाम को भारतीय पार्टी के क्षेत्रीय अध्यक्ष और विधान परिषद सदस्य डॉ धर्मेंद्र सिंह की पुत्री के विवाह समारोह में शामिल होंगे. वहीं, जनता दर्शन के दौरान उन्होंने करीब 300 लोगों की समस्याएं सुनीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *