नेपाली सोना के नाम पर ठगी करने वाले गैंग का खुलासा,तीन दबोचे गए

महराजगंज क्राइम ब्रांच व स्वाट टीम ने नेपाली सोना बेचने के नाम पर जालसाजी करने वाले अंतरराज्यीय गैंग का खुलासा किया है। गैंग के तीन सदस्यों को गिरफ्तार कर सोमवार को जेल भेज दिया। इस गैंग के सदस्य गोरखपुर, लखनऊ, प्रयागराज समेत कई जिलों के लोगों को अपने जाल में फंसा कर लाखों रुपये की धन उगाही कर चुके हैं।

गैंग का खुलासा करते हुए एसपी डॉ. कौस्तुभ ने बताया कि यह संगठित गिरोह के सदस्य हैं। इस गिरोह के सदस्य भोले भाले लोगों को नेपाल का सोना सस्ते दाम में बेचने का झांसा देकर फंसाते थे। मामला जानकारी में आने के बाद पुलिस जांच में जुटी। गिरोह के सात सदस्यों में से तीन बबलू सोनार निवासी धोववल मुसहरी टोला थाना विजयीपुर जिला गोपालगंज बिहार, संजय कुमार चौरसिया निवासी बकैनिया हरैया थाना कोल्हुई व अशरफ निवासी बैरवा बनकटवा थाना नौतनवा को गिरफ्तार किया है। गिरोह के चार सदस्य अब्दुल रऊफ निवासी बैरवा बनकटवा थाना नौतनवा, प्रमोद सिंह निवासी बकैनिया हरैया थाना कोल्हुई, हरिकेश्वर उर्फ मिंटू सिंह निवासी वार्ड नंबर 14 गौतमबुद्ध नगर थाना नौतनवा व श्रवण उपाध्याय निवासी गुलरिहा थाना कोल्हुई की तलाश की जा रही है।

गिरोह के सदस्य सोना विक्रेता बन ग्राहकों को बुलाते थे, फिर फर्जी पुलिस कर्मी बन मंसूबों को देते थे अंजाम

एसपी डॉ. कौस्तुभ ने बताया कि इस गिरोह के कुछ सदस्य नेपाल का सोना बेचने की कारोबारी की भूमिका में रहते थे। डील के लिए लोगों को झांसा देकर बुलाते थे। उसी दौरान गिरोह के कुछ सदस्य दरोगा व सिपाही बन दबिश डालते थे। सोना खरीदने आए लोगों को पकड़ लेते थे। उनके धन उगाही कर छोड़ देते थे। गोरखपुर, लखनऊ, प्रयागराज आदि कई महानगरों के लोगों को झांसे में फंसा कर यह गिरोह धन उगाही कर चुका था।

गिरफ्तार जालसाजों के खिलाफ दर्ज हैं कई मामले

एसपी डॉ कौस्तुभ ने बताया कि जालसाजी के आरोप में गिरफ्तार बबलू वर्मा व अशरफ के खिलाफ गोरखपुर के गीडा, सहजनवा, हरपुर बुदहट के अलावा फरेंदा, नौतनवा, सिद्धार्थनगर जिले के जोगिया उदयपुर थाना पुरंदरपुर में धोखाधड़ी समेत छह छह केस दर्ज हैं। अशरफ पुरन्दरपुर थाना का गैंगरस्टर भी है। वहीं संजय चौरसिया के खिलाफ फरेंदा व नौतनवा थाना में दो केस दर्ज हैं।

पुलिस टीम को एसपी ने दिया 25 हजार का इनाम

नेपाली सोना के नाम पर जालसाजों के गिरोह का भंडाफोड़ करने वाली पुलिस टीम में शामिल थानाध्यक्ष नौतनवा सत्य प्रकाश, एसओजी प्रभारी राम कृपाल सिंह, स्वाट टीम प्रभारी संजय दुबे व टीम में शामिल सभी पुलिस कर्मियों को इस कार्रवाई पर 25 हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *