*किसानों की जमीन का वाजिब मूल्य नहीं मिला तो बड़ा आंदोलन तय : विधायक फरेन्दा*

 

*रिपोर्टर रतन गुप्ता महराजगंजThu, 15 Sep

भारत माला परियोजना के तहत सड़क चौड़ीकरण के लिए अधिग्रहित की जा रही जमीन के मुआवजे का मामला गरमाता ही जा रहा है। इसको लेकर मानिकौरा चौराहे पर फरेंदा के कांग्रेस विधायक वीरेंद्र चौधरी और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विजय सिंह एडवोकेट के नेतृत्व में किसानों ने बड़ी बैठक की। प्रभावित किसानों को विधायक ने आश्वस्त किया कि उनकी जमीन का वाजिब मूल्य नहीं मिला तो बड़ा आंदोलन तय है। इसके लिए हर स्तर पर संघर्ष किया जाएगा।

गोरखपुर-सोनौली राष्ट्रीय राजमार्ग पर भूमि अर्जन के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग योजना के तहत 1956 की धारा 3 ए के विज्ञप्ति के प्रकाशन के बाद नेशनल हाइवे के प्रभावित भू स्वामियों व व्यवसायियों में मुआवजे को लेकर आक्रोश है। लोगों का कहना है कि उनकी सड़क के किनारे कीमती जमीन को कृषि की सामान्य भूमि की कीमत देकर लेने की कोशिश की जा रही है। यह छल है। बैठक में विधायक वीरेन्द्र चौधरी ने कहा कि इस मामले को लेकर सड़क से सदन तक आंदोलन से पीछे नहीं हटा जाएगा। इसको लेकर सदन में आवाज उठाई जाएगी। विजय सिंह एडवोकेट ने कहा कि कोई किसान नोटिस से न डरे। कोई किसी के साथ जोर-जबरदस्ती करे तो इसकी सूचना दी जाए। कहा कि कांग्रेस पार्टी किसानों के साथ है। इस दौरान कुंज बिहारी निषाद, राजन शुक्ला, कौश कुमार चौधरी, अनिल चौधरी, राकेश जायसवाल, त्रियुगी नारायण, राजकुमार, विष्णु चौधरी, प्रेम नारायण, राजेश, चंद्रिका अग्रहरी, दिलीप मद्धेशिया, राकेश कन्नौजिया, अली राजा, पंकज चौधरी, असलम खान, तीरथ प्रजापति, अजय यदुवंश चौधरी सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *