महराजगंज के पनियरा मे खेलते-खेलते मासूम भाई-बहन पोखरे में डूबे, मौत

रिपोर्टर रतन गुप्ता महराजगंज Mon, 03 Oct 2022

पनियरा के कामता बुजुर्ग में सोमवार दोपहर हुए एक हादसे ने एक परिवार को उजाड़ दिया। छह व चार साल के मासूम भाई-बहन खेलते समय पोखरे में डूब गए और दोनों की मौत हो गई। इस हादसे के बाद कोहराम मच गया। एसडीएम व सीओ मौके पर पहुंच गए। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया।

कामता बुजुर्ग निवासी महेन्द्र वर्मा आर्मी के डोंगरा रेजीमेंट में तैनात हैं और इस समय जम्मू में उनकी ड्यूटी है। उनकी दो संतान छह साल की गरिमा और चार साल का सागर घर पर अपनी मां रुबी के साथ रहते थे। घर में महेन्द्र के माता-पिता और छोटा भाई रहता है। सोमवार दोपहर मासूम गरिमा और सागर घर के सामने खेल रहे थे। खेलते-खेलते दोनों लापता हो गए। महेन्द्र के घर के सामने पीडब्ल्यूडी की सड़क और सड़क के दूसरी ओर पोखरा है। इन बच्चों की तलाश करते हुए उसकी मां व अन्य लोग शक के आधार पर पोखरे की ओर गए तो दोनों पानी में उतराते मिले। आनन-फानन में दोनों को निकाला गया। दोनों को जिला अस्पताल ले जाया गया, लेकिन तब तक दोनों की मौत हो गई थी। डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद दोनों का शव गांव लाया गया। मां रुबी रह-रहकर बेहोश हो जा रही थी, जबकि परिजनों को चुप कराने का कोई साहस नहीं जुटा पा रहा था। एसडीएम सदर मो. जसीम व सीओ अजय सिंह चौहान मौके पर पहुंच गए थे। पुलिस जरूरी कार्रवाई कर रही थी। दोनों शवों का पंचनामा बनवाया गया। परिजन शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजने को राजी नहीं हो रहे थे।

दो माह पहले महेन्द्र गए हैं ड्यूटी पर

आर्मी में तैनात महेन्द्र वर्मा दो माह पहले ही जम्मू ड्यूटी पर गए हैं। कुछ महीने बाद आने का वादा किया था। लेकिन इसी बीच यह हादसा हो गया और उनके दोनों बच्चों की जान चली गई।

दो भाई हैं आर्मी में

गांव निवासी श्यामसुंदर वर्मा के तीन बेटों में महेन्द्र बड़े हैं। महेन्द्र से छोटे भाई सोहन भी आर्मी में हैं, जबकि तीसरा सबसे छोटा भाई मोहन घर पर रहकर पढ़ाई करता है।

हादसे की सूचना पर सीओ सदर के साथ मौके पर गया था। शवों को पोस्टमार्टम के लिए देने को परिजन राजी नहीं हो रहे थे। इस मामले में जरूरी कार्रवाई की जा रही है।

मो. जसीम, एसडीएम, सदर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *