आईपीएस अंशिका वर्मा बनी सीओ कैंट पदभार किया ग्रहण

क्राइम मुखबिर से डॉ. योगेन्द्र पाण्डेय की रिपोर्ट

गोरखपुर। क्षेत्राधिकारी कोतवाली का प्रभार देख रही आईपीएस अंशिका वर्मा को एसएसपी ने क्षेत्राधिकारी कैंट का प्रभार सौंपा 2021 बैंच की आईपीएस अंशिका शर्मा ने क्षेत्राधिकारी कैंट का प्रभार किया ग्रहण। सीओ कैंट तीन जनवरी को कोतवाली का प्रभार ग्रहण किया था उनके बेहतर कार्यों को देखते हुए एसएसपी ने कैंट /लाइन का प्रभार सौंपा दिया अब कैंट सर्किल के साथ पुलिस लाइन के कार्यों को अपने दायित्वों का बखूबी निर्वहन करते हुए निर्वाह करेंगी।आईपीएस अंशिका वर्मा ने बताया कि कैंट सर्कल को अपराध मुक्त बनाना पहली प्राथमिकता होगी अपने उच्च अधिकारियों द्वारा दिए गए निर्देशों का अनुपालन करते हुए अपराध व अपराधियों पर पूर्ण रूप से अंकुश लगाएगी जिससे कैंट सर्कल अपराध मुक्त रहे आईपीएस अंशिका वर्मा
उत्तर प्रदेश के प्रयागराज की रहने वाली हैं।अंशिका ने अपनी प्राथमिक शिक्षा नोएडा से की है वर्ष 2014 से 2018 तक गलगोटिया कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, नोएडा से इलेक्ट्रॉनिक्स और कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग में बी.टेक की डिग्री के साथ स्नातक की उपाधि प्राप्त की है।यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा की ओर उनकी यात्रा उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में शुरू हुई, जहां उन्होंने खुद को कठोर तैयारी के लिए समर्पित कर दिया। सभी चुनौतियों को पार करते हुए, अंशिका ने अपने दूसरे प्रयास में यूपीएससी परीक्षा में 136 वी उल्लेखनीय रैंक हासिल की, यह सब बिना किसी औपचारिक कोचिंग के हासिल किया।अंशिका एक सहायक पारिवारिक पृष्ठभूमि से आती हैं। उनके पिता उत्तर प्रदेश विद्युत निगम लिमिटेड (यूपीईएल) से सेवानिवृत्त कर्मचारी हैं, जबकि उनकी मां एक गृहिणी हैं। उनके अटूट प्रोत्साहन ने उनकी सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
आईपीएस अंशिका वर्मा का इंजीनियर से आईपीएस अधिकारी बनने तक का सफर दृढ़ संकल्प और कड़ी मेहनत की शक्ति का उदाहरण है। उनकी सफलता की कहानी महत्वाकांक्षी सिविल सेवकों के लिए प्रेरणा का काम करती है, जो दर्शाती है कि दृढ़ता और आत्म-विश्वास के साथ सपनों को हकीकत में बदला जा सकता है।

क्राइम मुखबिर
अपराध की तह तक !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *