अनुमान है कि बाबा बरदगोरिया मंदिर में तीज मेले में 500,000 श्रद्धालु भाग लेंगे।

भारत-नेपाल सीमा संवाददाता जीत बहादुर चौधरी की रिप‍ोर्ट

काठमाण्डौ, नेपाल हर साल की तरह इस साल भी बाबा बरदागोरिया मंदिर, सुनवल नगरपालिका वार्ड नं. 11 केरवानी, पश्चिम नवलपरासी में तीज मेला कल से शुरू हो रहा है। मेला दो दिनों तक लगेगा, कल हरितालिका तीज का दिन बाबा बरदागोरिया धाम विकास संस्था के सचिव लेखनाथ ढकाल ने बताया कि मेले की आवश्यक तैयारी पूरी कर ली गयी है चूंकि श्रद्धालुओं की भारी भीड़ होगी, इसलिए मेले के प्रबंधन के लिए 12 अलग-अलग उपसमितियां बनाकर तैयारी की जा रही है। मेले में बच्चों के बगीचे, कुश्ती प्रतियोगिता और अन्य आकर्षणों के साथ एक मनोरंजक मेला है। अनुमान है कि मेले में 5 लाख से अधिक श्रद्धालु भाग लेंगे।
धाम विकास संस्था ने मेलों की भीड़ को देखते हुए भूमही चौक से मंदिर तक और सुनवल 13 बडेरा से मंदिर तक सड़क पर कोई पार्किंग या स्टॉल की व्यवस्था नहीं करने का अनुरोध किया है। भारी ट्रैफिक के कारण बाबा बर्दागोरिया बेसिक स्कूल और हीरागंज के उत्तर जंगल में वाहन पार्किंग की व्यवस्था की गयी है. मेले में नवलपरासी सहित आसपास के जिलों और यहां तक कि भारत से भी श्रध्दालु लोग आते हैं।
शिवभक्त नंदिकेश्वर की तपोभूमि के रूप में विख्यात, धार्मिक एवं पर्यटकों की आस्था का केंद्र बाबा बरदागोरिया धाम के दाहिनी ओर पनभर नदी और बायीं ओर भूमही नदी है। इस क्षेत्र में मामीसती सांवरिया मंदिर और अमरपोखरी झील हैं। इस मंदिर से जुड़ा एक और मंदिर मामीसती सबरिया मंदिर है। बाबा बर्दगोरिया और मामीसती सावरिया, हालांकि दोनों नाम अलग-अलग लगते हैं, लेकिन स्थानीय लोगों का कहना है कि इन दोनों मंदिरों का इतिहास एक ही है। बाबा बर्दगोरिया मंदिर परिसर में ऐतिहासिक व पुरातात्विक महत्व के कई खंडहर मिलने के बाद पुरातत्व विभाग की टीम ने कुछ माह पहले भी खुदाई की थी ।

क्राइम मुखबिर
अपराध की तह तक !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *