नई तकनीक से संभव है बढ़ती आबादी को खाद्य सुरक्षा देना

सबहेड-रोग,कीट व खरपतवार नियंत्रण कर लें उत्पादन में वृद्धि कैचवर्ड-फार्म स्कूल/रबी गोष्ठी फोटो कैप्शन- फार्म स्कूल में किसानों को जागरूक करते कृषि कर्मी व खेतों में कीट नियंत्रण के गुर सीखते किसान : बढ़ती आबादी को खाद्य सुरक्षा देने हेतु कृषि उत्पादन के मोर्चे पर पूरी तरह से सजग रहते हुए कृषि क्षेत्र में नवीन तकनीक का प्रयोग व साधनों से ही संभव है। गुरुवार को यह बातें कृषि विभाग उत्तर प्रदेश द्वारा संचालित सब मिशन ऑन एग्रीकल्चर एक्सटेंशन योजनांतर्गत आत्मा के तहत घुघली के लक्ष्मीपुर शिवाला ,विशुनपुर गबडुवा और खानपुर गांव में आयोजित फार्म स्कूल में प्रदर्शक एचीवर कृषक एवं अन्य किसानों को जागरूक करते हुए बीटीएम घुघली संजय गोविंद राव ने कही।एटीएम घुघली अरविंद चतुर्वेदी ने कहा कि अच्छी उपज के लिए किसान भाईयों को फसलों में लगने वाले रोगों, कीटों एवं खर पतवारों पर नई तकनीक का प्रयोग कर नियंत्रण करना बहुत जरूरी है।उन्होंने कहा कि खेतों से खर पतवार के शमन एवं जल धारण क्षमता बढ़ाने हेतु गहरी जोताई अवश्य करें ।घुघली में ही तैनात एक अन्य एटीएम अरविंद कुमार पटेल ने कहा कि अच्छी उपज के लिए किसान भाई अपने खेतों की मिट्टी पलट हल से गहरी जोताई करें, मिट्टी की जांच कराएं,क्षेत्रीयता के आधार पर रबी,खरीफ व जायद की उन्नतशील प्रजाति का चयन करें।रासायनिक उर्वरकों के असंतुलित प्रयोग से बचें । गोबर की खाद,जैविक खाद, हरी खाद एवं कम्पोस्ट खाद का अधिकाधिक प्रयोग करें।इस मौके गेहूं की एच0डी0 3086प्रजाति के एचीवर कृषक राजीव पटेल व रामप्रीत प्रसाद सहित कृष्णमोहन पटेल,जयप्रकाश पटेल,सुभाषचंद पटेल,समीर चौधरी, ध्रुवनारायण त्रिपाठी, सुनील त्रिपाठी, आर 0 के0 त्रिपाठी, भूमिनन्दन पांडेय,बनवारी, धनेश,रामचंद्र चौधरी,रामलखन गौतम ,रामसूचित प्रजापति आदि किसान उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *