कुशीनगर में नाबालिग को अगवा कर कार में गैंगरेप, पुलिस ने पहले तो टरकाया, फिर वीडियो वायरल होने FIR किया दर्ज, 3 अरेस्ट —

क्राइम मुखबिर से उप संपादक रतन गुप्ता की रिपोर्ट –

वायरल वीडियो में कुछ युवक नाबालिग के दुपट्टे को पकड़कर खींचते हुए उसे कार में बैठा रहे हैं. वीडियो वायरल होने के बाद टाल- मटोल करने वाली कप्तानगंज पुलिस हरकत में आई और आनन-फानन में मुकदमा दर्ज कर 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।




कप्तानगंज थाना क्षेत्र में नाबालिग को अगवा कर कार में गैंगरेप —
वीडियो वायरल होने के बाद हरकत में आयी पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया —-
उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में कप्तानगंज थाना क्षेत्र में नाबालिग को अगवा कर कार में गैंगरेप करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. पीड़ित के पिता ने दो बार थाने में जाकर आपबीती सुनाई, लेकिन पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया. घटना 9 सितंबर की बताई जा रही है. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद हरकत में आयी पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

वायरल वीडियो में कुछ युवक नाबालिग के दुपट्टे को पकड़कर खींचते हुए उसे कार में बैठा रहे हैं. वीडियो वायरल होने के बाद टाल- मटोल करने वाली कप्तानगंज पुलिस हरकत में आई और आनन-फानन में मुकदमा दर्ज कर 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. पीड़िता के पिता ने तहरीर देकर बताया कि 9 सितंबर की दोपहर उनके गांव के रहने वाले युवक ने नाबालिग बेटी को बुलाया और चाकू दिखाकर एक झोपड़ी में ले जाकर दुष्कर्म किया. इसके बाद उसे कार में बैठा लिया और हाटा लेकर पहुंच गया, वहां पहले से मौजूद 3 अन्य युवक कार में सवार हुए. इसके बाद तीनों ने चलती कार में उसके साथ दुष्कर्म किया. देर रात उसकी बेटी को गांव के बाहर छोड़कर सभी आरोपी फरार हो गए. बेटी से आपबीती सुनने के बाद उन्होंने थाने में दो बार शिकायत की, लेकिन सुनवाई नहीं हुई. इसके बाद युवती का दुपट्टा खींचकर कार में बैठाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।


वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस हरकत में आई. पहले कार्रवाई से बचने वाली पुलिस ने 3 नामजद और एक अज्ञात पर मुकदमा दर्ज करते हुए 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. अपर पुलिस अधीक्षक रितेश कुमार सिंह ने बताया कि तहरीर मिलने के बाद मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है. पुलिस ने 3 आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया है और आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है।

क्राइम मुखबिर
अपराध की तह तक !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *