नव नियुक्त 21 लेखपालों ने सदर तहसील में प्रभार किया ग्रहण

क्राइम मुखबिर से डॉ. योगेन्द्र पाण्डेय की रिपोर्ट

सेवाकाल में नालेज, स्कील व एटीट्यूट सब के अंदर होनी चाहिए – आकांक्षा

गोरखपुर। शासन द्वारा नव नियुक्त लेखपालो तहसील आवंटित कर दिया गया है सदर तहसील को मिले 21 लेखपालो ने आज सदर तहसील पहुंचकर पद भार ग्रहण किया नवनियुक्त लेखपालों को नायब तहसीलदार आकांक्षा पासवान ने सदर तहसील सभागार में नव नियुक्त
लेखपालों को दायित्व और कर्तव्यों के बारे में बताया इस दौरान अधिनियम 1950 और भू व्यवस्था अधिनियम 1901 की नियमावली के बारे में जानकारी दी। भूमिधर के प्रकार से अवगत कराते हुए उन्होंने कहा कि ये तीन प्रकार के होते हैं। संक्राम अधिकार, असंक्राम अधिकारी तथा असामी। उन्होंने कहा कि आप प्रशिक्षण केन्द्र पर पूरी ईमानदारी व लगन से पूर्ण करें, जिससे आपकों आपकी सेवा काल में किसी प्रकार की कोई समस्या न हो। सेवाकाल में तीन चीजें नालेज, स्कील व एटीट्यूट सभी के अंदर होनी चाहिए। जब बेहतर जानकारी होती है तो नौकरी और आसान हो जाती है। दूसरा स्कील या कौशल होगा तो तभी जनता की भावनाओं को समझेंगे और उनकी अपेक्षाओं पर खरा उतर सकेंगे। तीसरा समाज के प्रति सहयोग का नजरिया सबके अंदर होना चाहिए। उन्होंने कहा कि लेखपाल का काम 24 घंटे का होता है, क्योंकि आपदा यथा बाढ़ सूखा आदि का कोई समय नहीं होता है। आप सभी को हर समय अपने कर्तव्यों के निर्वहन के लिए तत्पर रहना चाहिए सभी को दिए गए दायित्वों को ईमानदारी पूर्वक निर्वहन करते हुए कार्य करना होगा किसी के प्रलोभन में किसी प्रकार का कोई भी कार्य न करें इस दौरान रजिस्टार कानूनगो उदय राज रतना विवेकानंद लेखपाल विकास गुप्ता मौजूद रहे।

क्राइम मुखबिर
अपराध की तह तक !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *