नौतनवा रैक से रेलवे को करोड़ों का फायदा नौतनवां रेलवे स्टेशन पर सिर्फ सुबह और शाम को मिलती है ट्रेन आन्दोलन की चेतावनी ———

क्राइम मुखबिर से उप संपादक रतन गुप्ता की रिपोर्ट –

नौतनवा रेलवे स्टेशन से लोगों को कोई फायदा नहीं है रेलवे को हर महिने रैक से करोड़ों रुपया आ रहे हैं । रैक आने जाने में कोई दिक्कत नहो इसके कारण नौतनवा रेलवे से दिल्ली ,बम्बई , कलकत्ता की ट्रेनें नहीं चलाते जा रहै । नौतनवा रेलवे स्टेशन पुरी तरह नेपाल के बयानों के लिये बनाये गये । यात्री को कोई सुबिधा नहीं । एक अनुमान के अनुसार हर महिने 25 करोड़ की रैक से आमदनी होती है । यही कारण है रेलवे के बड़े अधिकारी नौतनवा से टेन चलाने के मुड में नहीं है नौतनवा के लोगो ने अब आन्दोलन के मुड में है । वहीं नौतनवा से दो ही टेन चलती है ।


दोपहर में चलने वाली ट्रेन बीते सात अगस्त से है निरस्त, बस से सफर करने को मजबूर यात्री——–
नौतनवा रेलवे स्टेशन पर सुबह के बाद शाम को ही ट्रेन संचालित होने से यात्रियों की मुश्किलें बढ़ गईं हैं। ऐसे में यात्री अधिक पैसा देकर बस से सफर करने को मजबूर हैं। यात्रियों को ट्रेन के लिए पांच घंटे इंतजार करना पड़ता है।
जानकारी के अनुसार, नौतनवा में रेलवे स्टेशन से पहले डेमो ट्रेन सुबह 6:05 बजे और दूसरी 9:40 बजे है, जो गोरखपुर के नकहा जंगल रेलवे स्टेशन तक जाती है। दोपहर में चलने वाली ट्रेन बीते सात अगस्त से निरस्त है। शाम 6:50 बजे पैसेंजर ट्रेन चलती है। ऐसे में यात्री परेशान हैं। यात्री रामायन चौहान बेल्थरा निवासी ने बताया कि भैरवा नेपाल गए थे। पिता की आंख का आपरेशन कराने गए थे। एक बजे तक नौतनवा रेलवे स्टेशन तक आ गया, तभी से इंतजार कर रहा हूं। अभी तक कोई ट्रेन नहीं आई। देवरिया की सुभावती, दुर्गावती, द्रौपदी, सुहागी ने बताया कि नेपाल के नवलपरासी रिश्तेदार के घर गई थी। वहां से स्टेशन पर आई हूं। लगभग दो बजे नौतनवा स्टेशन पर पहुंची हूं और ट्रेन का इंतजार कर रही हूं। बस में बहुत दिक्कत होती है, इसलिए इंतजार कर रही हूं।

नौतनवा रेलवे स्टेशन अधीक्षक जाफरी आलम ने बताया कि तीन ट्रेनों का संचालन अभी हो रहा है। आगे ट्रेन बढ़ने की संभावना है।

क्राइम मुखबिर
अपराध की तह तक !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *