सुनील बंसल संभालेंगे यूपी BJP को लोकसभा चुनाव जिताने का जिम्मा?महराजगंज सहित सासंदों का रिपोर्ट कार्ड तैयार!


रिपोर्टर रतन गुप्ता 22 May 2023
महराजगंज संसदी क्षेत्र मे इस बार धन बल की लडाई नही है जनता का मुड बदने मे जो प्रत्याशी सफल रहा वह ही चुनाव जीते गा इस बार एकतरफा जनता का मुड नही है । लोकसभा चुनाव 2024 से ठीक पहले यूपी में जनसंपर्क अभियान की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी राष्ट्रीय महामंत्री सुनील बंसल को दी गई है। इसके जरिए ही उत्तर प्रदेश में सासंद उम्मीदवारों के लिए टिकट तय करने का रिपोर्ट कार्ड भी तैयार होगा। 2014 लोकसभा चुनाव में सुनील बंसल की भूमिका से बीजेपी 73 सीटों तक पहुंची थी।

लोकसभा चुनाव 2024के लिए बीजेपी राष्ट्रीय महामंत्री सुनील बंसल पर नजर————————–
सांसद उम्मीदवारों के रिपोर्ट कार्ड तैयार करने और टिकट देने में बड़ी भूमिका निभाएंगे!————————
2014 लोकसभा चुनाव में अमित शाह के साथ मिलकर यूपी में जिताई थी 73 महत्वपूर्ण सीटें

लोकसभा चुनाव 2024 से पहले यूपी में भाजपा एक बार फिर राष्ट्रीय महामंत्री सुनील बंसल को चुनाव जिताने की जिम्मेदारी दे सकती है। चुनाव की तैयारी के लिए 30 मई से शुरू हो रहे जनसंपर्क अभियान की मॉनिटरिंग और रिपोर्ट तैयार करने की जिम्मेदारी यूपी में बंसल को दी गई है। यूपी के प्रदेश संगठन महामंत्री रह चुके बंसल को दी गई, इस जिम्मेदारी को अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले महत्वपूर्ण माना जा रहा है।
सूत्रों का कहना है कि यूपी में 30 मई से 30 जून तक चल रहे जनसंपर्क अभियान के जरिए भाजपा के सांसदों का रिपोर्ट कार्ड भी तैयार किया जा रहा है। तीन दिन पहले बरेली आए राष्ट्रीय महामंत्री सुनील बंसल ने बृज क्षेत्र की बैठक में प्रदेश की टीम से यह रिपोर्ट तैयार करने को भी कहा है। मोदी सरकार के नौ साल पूरे होने पर चलाए जा रहे जनसंपर्क अभियान में नौ विशेष अभियान चलाए जा रहे हैं। हर लोकसभा क्षेत्र में इसकी जिम्मेदारी सांसदों को दी गई है। जहां भाजपा के सांसद नहीं हैं, वहां का जिम्मा पहले बनाए जा चुके लोकसभा संयोजकों और प्रभारियों को दी गई है। कहा जा रहा है कि अभियान की सफलता के आधार पर सांसदों की समीक्षा रिपोर्ट तैयार की जा रही है। इसी रिपोर्ट के आधार पर हर संसदीय क्षेत्र में 2024 के लिए लोकसभा का टिकट तय होगा।

बीजेपी प्रदेश कार्यालय को भेजेंगे रिपोर्ट
अभियान की मॉनिटरिंग के लिए प्रदेश स्तर पर भाजपा संगठन ने दो प्रदेश महामंत्री संजय राय और गोविंद नारायण शुक्ला को लगाया है। इनके साथ भाजपा के छह क्षेत्रों में अलग-अलग पदाधिकारी लगाए गए हैं। इनमें प्रदेश उपाध्यक्ष मानवेंद्र सिंह को पश्चिम क्षेत्र, त्रयम्बक त्रिपाठी को अवध क्षेत्र, प्रदेश मंत्री शंकर गिरि को गोरखपुर क्षेत्र, शंकर लोधी को काशी क्षेत्र, पूनम बजाज को कानपुर क्षेत्र, बसंत त्यागी को ब्रज क्षेत्र की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी दी गई है। यह सभी जिलों और मंडलों से नियमित रिपोर्ट लेकर प्रदेश कार्यालय को भेजेंगे। प्रदेश कार्यालय से यह रिपोर्ट राष्ट्रीय महामंत्री सुनील बंसल के पास भेजी जाएगी।

यूपी के लिए महत्वपूर्ण रहे हैं बंसल
यूपी के पूर्व संगठन महामंत्री और अब राष्ट्रीय महामंत्री सुनील बंसल यूपी के लिए महत्वपूर्ण रहे हैं। बंसल की इंट्री 2014 के लोकसभा चुनाव के पहले उस वक्त यूपी प्रभारी रहे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के सहयोगी के तौर पर हुई थी। सहयोगी के तौर पर बंसल ने 2014 के लोकसभा चुनाव में कमाल दिखाया और 73 सीटें जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका रही। 2014 के लोकसभा चुनाव के नतीजे आते ही बंसल को यूपी भाजपा का संगठन महामंत्री बना दिया गया। बंसल ही भाजपा संगठन के विस्तार के लिए नए प्रयोगों के सूत्रधार बने। कहा जाता है कि बूथ से लेकर पन्ना प्रमुखों की संरचना बंसल की ही देन है।

सुनील बंसल का पूरा रेकॉर्ड
जातीय प्रयोगों की नई ‘सोशल इंजिनियरिंग’ का इस्तेमाल कर यूपी भाजपा को 2017 के विधानसभा चुनाव में 325 सीटों की बड़ी कामयाबी दिलाने के पीछे का सूत्रधार बंसल को ही माना जाता है। दरअसल संघ के प्रचारक बंसल को उस वक्त यूपी भेजने के पीछे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ही योजना थी। राजस्थान के रहने वाले सुनील बंसल ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद(एबीवीपी) से काम शुरू किया था। सपा-बसपा गठबंधन के बीच 2019 का लोकसभा जिताने के साथ ही 2022 के विधानसभा चुनाव, दो पंचायत चुनावों, एक निकाय चुनाव, रामपुर-आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव में भाजपा को जीत दिलाने के पीछे बंसल की ही भूमिका मानी जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *