समाज का कुशल शिल्पी है शिक्षक : बाल्मीकि त्रिपाठी


कैचवर्ड- शिक्षा संकाय भवन का लोकार्पण
फोटो कैप्शन-प्रभावती देवी मोतीप्रसाद स्नातकोत्तर महाविद्यालय बेलवा टीकर में शिक्षा संकाय भवन का लोकार्पण करते पीसीएफ उत्तर प्रदेश के सभापति बाल्मीकि त्रिपाठी, महराजगंज:शिक्षक समाज का कुशल शिल्पी है। वह अपने शिष्यों को अच्छी शिक्षा देकर राष्ट्र व समाज की सेवा के लिए सुयोग्य बनाता है। शिक्षक के बिना कोई जीवन में कभी भी सफल नहीं हो सकता। शिवाजी को छत्रपति शिवाजी बनाने वाले उनके गुरु समर्थ रामदास थे। बाह्मणों अर्थात पंडितों ने देश व समाज को बहुत कुछ दिया है। ब्राह्मण एक जाति नहीं अपितु एक विचारधारा है। राष्ट्रवाद की जो बात करता है, वही पंडित है, वही ब्राह्मण है।अतएव इनके बिना शिक्षा की कल्पना करना बेमानी है।
यह बातें उत्तर प्रदेश कोऑपरेटिव फेडरेशन लिमिटेड के सभापति बाल्मीकि त्रिपाठी ने प्रभावती देवी मोतीप्रसाद स्नातकोत्तर महाविद्यालय बेलवा टीकर में नवनिर्मित शिक्षा संकाय भवन के लोकार्पण के दौरान कही। उन्होंने कहा कि पावन भारत भूमि पर जन्म लेना बहुत बड़े सौभाग्य की बात है। दुनिया में ऐसा कोई देश नहीं है जिसे माँ कहा जाता हो शिवाय भारत माता के। उन्होंने महाविद्यालय के छात्र- छात्राओं को संकल्प के साथ सदैव लक्ष्य निर्धारित कर व अनुशासित रहकर कड़ी मेहनत से पढ़ाई करने पर जोर दिया तथा कहा कि इससे सफलता अवश्य कदम चूमेगी।
इस मौके पर संस्था के प्रवंधक डॉ0 सुभाषचंद पांडेय, प्राचार्य डॉ0 अभिषेक कुमार मिश्र, संरक्षक राजेश्वर तिवारी, कोषाध्यक्ष नरेंद्र पांडेय, प्रमुख संघ के जिला अध्यक्ष वेद प्रकाश शुक्ला, जिला कोषाध्यक्ष ओमप्रकाश जायसवाल, पूर्व चेयरमैन बिरेंद्र सिंह, प्रधान संगठन गोरखपुर मंडल के अध्यक्ष विजय कुमार मिश्र, इंका नेता अवधेश चौबे, भाजपा राष्ट्रीय परिषद के सदस्य जनार्दन प्रसाद गुप्त, पूर्व माध्यमिक विद्यालय शिक्षक संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उपेंद्र पांडेय, प्रधान संघ के ब्लाक अध्यक्ष दिनेश जायसवाल, चोखराज के पूर्व प्रधानाचार्य ज्योतिष मणि त्रिपाठी, चंद्रशेखर पांडेय, राकेश पांडेय, ओमप्रकाश पांडेय,विनय पांडेय, सीताराम पांडेय, शिक्षक नेता संजय मणि त्रिपाठी, विष्णुदेव उपाध्याय, ग्राम प्रधान चतुर्भुजा सिंह, रामसजीवन सिंह, इस्तखार खान, मनोज जायसवाल, भरत कुमार शुक्ल एवम सुधीर श्रीवास्तव ,उपेंद्र मिश्र ,जितेंद्र मिश्र,डॉ0 दिलीप कुमार मिश्र आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन डॉ आशीष कुमार मिश्र तथा आभार प्राचार्यअभिषेक मिश्र ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *