हजरत बाबा करीमुल्लाह शहीद (र. अ.) का 51 वां उर्स बहुत ही शान व शौकत के साथ मनाया गया

उम्मते मुस्लिमां सबसे पहले तारीख से सबक लें – मुफ्ती अजहर शमसी

इल्म को अपना हथियार बनाओ , जिससे हक और बातिल में फर्क समझा जा सके – मौलाना असलम

सेराज अहमद कुरैशी

गोरखपुर, उत्तर प्रदेश।

हर साल की तरह इस साल भी हजरत बाबा करीमुल्लाह शहीद रहमतुल्लाह अलैह का 51 वां उर्स मुबारक मोहल्ला- तुर्कमानपुर निकट नई मस्जिद, कैंपस के. डब्ल्यू. नाईस वाटर में बहुत ही शान व् शौकत के साथ मनाया गया। मिलाद का कार्यक्रम रात 9:00 बजे से शुरू हुआ। इस कार्यक्रम में कारी हबीबुल्लाह ने कुरान की आयत के साथ प्रोग्राम का आगाज किया। प्रोग्राम के मेहमान ए खुसूसी गोरखपुर शहर के नायब काजी मुफ्ती अजहर शमसी साहब ने कहा कि आजकल के इस दौर में अपनी पूरी कौम को सबसे पहले तारीख से सबक लेनी चाहिए, जिससे नौजवान बच्चों को ज्यादा से ज्यादा तालीम हासिल हो सके। प्रोग्राम की सदारत करते हुए नूरी मस्जिद तुर्कमानपुर के इमाम मौलाना असलम साहब ने कहा कि इल्म को अपना हथियार बनाओ , जिससे हक और बातिल में फर्क समझा जा सके। प्रोग्राम के खास मेहमान कारी शराफत हुसैन साहब न

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *