पूर्व प्रधान के बेटे का कत्ल: युवक को पीटकर मार डाला, पड़ोसियों को खबर भी न हुई; सुनी थी बचाने की गुहार, पर…

क्राइम मुखबिर से उप संपादक रतन गुप्ता की रिपोर्ट –

महराजगंज में पूर्व प्रधान के बेटे की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई, लेकिन पड़ोसियों को खबर भी न हुई। हत्या के बाद गांव में लोग करते रहे तरह-तरह की चर्चा है। युवती के पिता ने कहा कि मारपीट के दौरान छत से गिर गया। सिर में चोट लगने से उसकी मौत हो गई।

आखिर युवक की चीखने-चिल्लाने की आवाज क्यों नहीं सुन पाए आस-पड़ोस के लोग? यह सवाल सोमवार को गांव के हर किसी की जुबान पर था। पुलिस भी इस नजरिए से मामले की जांच कर रही है। वहीं, युवती के पिता ने दूसरी ही कहानी बताई है। उसके अनुसार भागते समय छत से घिरने की वजह से सिर में चोट लग गई, जिस वजह से युवक की मौत हो गई।

पुलिस को भी आरोपी के घर से हत्या में प्रयुक्त कोई हथियार नहीं मिला है। पूर्व प्रधान के बेटे की हत्या की जानकारी होने के बाद सोमवार को दिनभर गांव में तरह-तरह की चर्चा होती रही। कई लोगों का कहना था कि दोनों का समझाया जा सकता था। प्रेम संबंध में हत्या करने की क्या जरूरत थी?

इसकी भी चर्चा होती रही कि रात में पीट-पीटकर एक युवक को मार डाला गया और आसपास के लोगों को भनक तक नहीं लगी, ऐसा कैसे हो सकता है? उधर, कई लोग यह आशंका जता रहे थे कि युवक को बंद कमरे में मारा-पीटा गया होगा। यही वजह है कि उसकी चीखने-चिल्लाने की आवाज बाहर नहीं आ पाई और कोई सुन नहीं पाया।

वहीं, युवती के पिता ने पुलिस को बताया कि रविवार रात युवक घर में घुस आया था। इसकी जानकारी होने पर उसे पकड़ लिया गया। सब लोग मिलकर उसे मारने-पीटने लगे। चिल्लाते हुए वह भागकर छत पर चला गया और नीचे गिर गया। घिरने से उसके सिर में चोट लग गई जिससे वह मर गया। डर की वजह से उसे बोरे में भरकर भूसे में छिपा दिया गया था।
सुनी थी बचाने की गुहार, पर ध्यान नहीं दे पाया –


गांव के एक व्यक्ति ने बताया कि रात में चिल्लाने की हल्की सी आवाज सुनाई दी थी, लेकिन कुछ समझ में नहीं आ रहा था। हालांकि, ऐसा महसूस हुआ की कोई बचाने की गुहार लगा रहा है। काफी रात होने की वजह से बहुत ज्यादा ध्यान नहीं दिया। इस व्यक्ति ने अफसोस जताया कि यदि उस समय गौर किया होता और लोगों को बताया होता तो युवक की जान बच सकती थी। उसने बताया कि देर रात होने के कारण डर भी लग रहा था। इस व्यक्ति का घर प्रेमिका के घर से थोड़ी ही दूरी पर है।


युवती के पिता का आरोप : बेटी की शादी तोड़ने में लगा था युवक —
युवती के पिता ने पुलिस को बताया कि बेटी की शादी तय हो गई थी। युवक सोशल मीडिया के माध्यम से उसके ससुराल वालों को संदेश भेजता था। पहले भी कई बार ऐसी हरकत न करने की हिदायत दी गई थी। लेकिन, वह अपनी आदत से बाज नहीं आ रहा था।


बच्चेदानी में कैंसर की वजह से पत्नी को छोड़ दिया था युवक —
पूर्व प्रधान के बेटे की शादी कुशीनगर जिले के एक गांव में हुई थी। शादी के कुछ दिनों बाद से दोनों में अनबन हो गई थी। तीन वर्ष पहले उसकी पत्नी घर छोड़कर मायके में रहने लगी। युवक के बड़े भाई ने बताया उसकी पत्नी को बच्चेदानी में कैंसर है। इसलिए दोनों अलग हो गए। वहीं, कुछ गांव वालों का कहना था कि युवक और युवती के प्रेम प्रसंग की जानकारी होने के बाद उसकी पत्नी नाराज होकर मायके चली गई।
छलक रहा था आंसू, गांव में पसरा मातम
पोस्टमार्टम होने के बाद शाम 6:45 बजे शव गांव में पहुंचते ही चीख-पुकार मच गई। आंख से आंसू छलक रहे थे। हजारों की संख्या में ग्रामीण शवयात्रा में शामिल हुए। श्यामदेउरवां प्रभारी निरीक्षक धर्मेन्द्र कुमार सिंह तथा भिटौली थाना प्रभारी रामाज्ञा सिंह ने पुलिस फोर्स के साथ मोर्चा संभाल रखा था। गांव के पूरब नहर पर अंतिम संस्कार किया गया। पति की मौत की खबर सुनकर मृतक की पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल था।

क्राइम मुखबिर
अपराध की तह तक !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *