नौतनवा मे शासन के निर्देश पर मदरसों का सर्वे करने पहुंची टीम

रिपोर्टर रतन गुप्ता महराजगंजThu, 15 Sep 2022

शासन के निर्देश पर तीन सदस्यीय टीम ने नौतनवा क्षेत्र के आधा दर्जन मदरसों का सर्वे किया। सर्वे के दौरान अधिकारियों को एक मदरसा बिना मान्यता के चलता मिला। टीम ने जांच 12 बिंदुओं में केंद्रित रखा है। इसमें मुख्य रूप से मदरसे की स्थापना, आय के स्रोत, शिक्षकों की संख्या सहित बच्चों के पढ़ाई का स्तर पता किया जा रहा है।

एसडीएम दिनेश कुमार मिश्रा, अल्पसंख्यक अधिकारी लालमन प्रसाद, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी आशीष कुमार सिंह, नौतनवा खंड शिक्षा अधिकारी आनंद कुमार मिश्रा के नेतृत्व में तहसील क्षेत्र के आधा दर्जन मदरसों का सर्वे किया गया। टीम ने हरदी डाली गांव पहुंचकर मदरसा दारूल उलूम अहलेसुनन्त गौसुम उलूम निजामिया में मदरसे के अभिलेखों का जांच पड़ताल की। सर्वे के दौरान अधिकारियों ने मदरसों के मानकों को भी ध्यान में रखा। इसमें बनी बिल्डिंग कितने वर्ग मीटर में बनकर मदरसा संचालित है? कितने क्लासरूम बनाए गए हैं और कितनी कक्षाएं संचालित की जा रही हैं? का ब्योरा जुटाया गया। सोनौली सीमा के समीप सुकरौली में स्थापित मान्यता प्राप्त मदरसा अरबिया अहले सुन्नत मिस्बाहुल ओलूम में जांच करने पहुंची टीम ने जांच के दौरान पाया कि अरबी, फारसी और उर्दू में बच्चों की पढ़ाई का स्तर ठीक है।

विज्ञान, गणित और अंग्रेजी जैसे विषयों को बेहतर करने की जरूरत जताई गई। एसडीएम दिनेश कुमार मिश्रा ने बताया कि लगभग आधे दर्जन मदरसों का सर्वे किया गया है। अभी एक मदरसा बिना मान्यता के संचालित पाया गया है। मदरसों के सर्वे के दौरान बच्चों की शिक्षा काफी कमजोर पाई जा रही है। इसे और बेहतर करने की जरूरत है। क्षेत्र के सभी हिस्सों में सर्वे पूरा कर जांच रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेजी जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *