नेपाल मे विमान हादसे के बाद डरे है पर्यटक नारायणी नदी में शुरू हुआ क्रूज

रिपोर्टर रतन गुप्ता सोनौली Mon, 16 Jan 2023

नेपाल मे विमान हादसे के बाद नेपाल के चितवन में नारायणी नदी के तट पर क्रूज शिप का संचालन शुरू हो गया है। क्रूज शिप के अंदर रेस्तरां, सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए एक आकर्षक मंच, बैठक और सेमिनार आयोजित करने वाला एक हॉल और सेल्फी पॉइंट भी है।

लंबे इंतजार के बाद नेपाल के चितवन में नारायणी नदी के तट पर क्रूज शिप का संचालन रविवार से शुरू हो गया। क्रूज का निर्माण राइनो वाटर इंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड ने किया है। केरल के विशेषज्ञों की टीम ने इस क्रूज को तैयार करने में मदद की है।

राइनो वाटर इंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक रामचंद्र कंडेल ने बताया कि दो साल पहले क्रूज का सफल परीक्षण किया गया था, लेकिन कोरोना महामारी के कारण इसका निर्माण समय से पूरा नहीं हो सका। भरतपुर महानगर पालिका-16 ज्ञानेश्वर सामुदायिक वन में कावरेघाट में एक क्रूज शिप स्टेशन है।

क्रूज पर एक बार में 180 यात्री सवार होते हैं। एक क्रूज शिप में तीन मंजिलें हैं। यात्रियों को एक घंटे के लिए नारायणी नदी पर क्रूज पर ले जाने की व्यवस्था है। उन्होंने बताया कि क्रूज का टिकट 700 नेपाली रुपया है। ब्रेकफास्ट क्रूजिंग के लिए 1,500 रुपये, लंच क्रूजिंग के लिए 2,000 रुपये और डिनर क्रूजिंग के लिए 2,500 रुपये तय किए गए हैं।

क्रूज शिप के अंदर रेस्तरां, सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए एक आकर्षक मंच, बैठक और सेमिनार आयोजित करने वाला एक हॉल और सेल्फी पॉइंट भी है। उन्होंने बताया कि एक वीआईपी कमरा, एक पॉइंट सेल्फी के लिए है। हर यात्री का 10 लाख का बीमा होगा। क्रूज शिप में रहने के दौरान शादी, सगाई, जन्मदिन, शादी की सालगिरह आदि जैसी गतिविधियों के लिए भी सुविधाएं हैं।

निर्माण पर 15 मिलियन से अधिक खर्च
क्रूज शिप के निर्माण पर 15 मिलियन से अधिक नेपाली रुपये खर्च हुए हैं। क्रूज संचालन के लिए नारायणी नदी में 40 किलोमीटर की अनुमति मिली है। क्रूज में दो इंजन हैं। क्रूज में पहली मंजिल पर 90 और दूसरी मंजिल पर 100 लोग बैठ सकते हैं। दूसरी मंजिल के एक तरफ10 खास लोगों के लिए कुर्सियां लगी हैं। क्रूज 100 फीट लंबा और 25 फीट चौड़ा है। नॉर्वेजियन तकनीक से बने क्रूज को भारत में केरल के विशेषज्ञों ने तैयार किया है। चालक दल के 15 सदस्य साथ हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *