कौन हैं महंत राजू दास, क्यों आ गया था गुस्सा.. क्यों हो गई थी हाथापाई, जानिए हरेक बात


रिपोर्टर रतन गुप्ता

एक टीवी डिबेट के दौरान लखनऊ में एसपी नेता स्वामी प्रसाद मौर्य और हनुमानगढ़ी महंत राजू दास के बीच हुई हाथापाई का मामला तूल पकड़ता जा रहा है।

स्वामी प्रसाद मौर्य और महंत राजू दास के बीच हुई हाथापाई————
महंत ने मौर्य को बता दिया गुंडा, कहां-कराएंगे FIR———————
राजू दास का दावा, मौर्य ने उन्हें भगवा गुंडा कहा—————- उत्तर प्रदेश में इस वक्त रामचरितमानस पर समाजवादी पार्टी (एसपी) नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के बयान के बाद बवाल मचा हुआ है। इसी मामले पर लखनऊ के एक होटल में मौर्य और महंत राजू दास के बीच हाथापाई तक हो गई। अब दोनों पक्ष एक-दूसरे पर हमला करने का आरोप लगा रहे हैं। राजू दास ने कहा कि जब में एक चैनल के कार्यक्रम में भाग लेने होटल के अंदर जा रहा था वहीं से मौर्या वापस लौट रहे थे। इसी दौरान मौर्या ने कहा कि देखो भगवा आतंकवादी आ गया। ये रामचरितमानस के ठेकेदार हैं। राजू दास ने कहा कि इसी मामले पर जब मैंने मौर्या से सवाल-जवाब किया तो हाथापाई हो गई।

जानिए कौन हैं राजू दास

राजू दास हनुमान गढ़ी के महंत हैं। वह हिंदू धर्म को लेकर अपनी बेबाक राय रखते हैं। काली फिल्म में माता काली के हाथ में सिगरेट जलाते हुई पोस्टर हो या नुपूर शर्मा का मामला वह अक्सर अपने बयानों से चर्चा में रहे हैं। बातचीत में राजू दास ने मौर्य को गुंडा तक बता दिया।

महंत ने बताया, आखिर हुआ क्या था

राजू दास ने बताया कि जब वह कार्यक्रम से लौट रहे थे मौर्य ने उनको भगवा आतंकवादी कहा था। उन्होंने कहा कि ये रामचरितमानस के ठेकेदार हैं। इसी के बाद मामला बिगड़ा। उन्होंने कहा कि तब मैंने भी उनसे कई सवाल किए थे। फिर उनके बीच हाथापाई हो गई। मैंने उनसे कहा कि आप राजनीतिक व्यक्ति हो। भ्रष्टाचार, बेरोजगारी, विकास की बात करो। आप कोई धर्मगुरु नहीं हो कि लगातार रामचरितमानस की बात करो। अगर आपको इतनी ही तकलीफ है तो आप कुरान की कुरीति के बारे में भी बात करो। मुसलमानों में किस तरह से जातिवाद है, उसका भी जिक्र करो।

मौर्य गुंडा हो गया है!

दास ने कहा कि मौर्य शुद्ध रूप से राजनीतिक गुंडा हो गया है। वो गुंडई पर उतारू हो गया है। हम सहिष्णु हो गए हैं, हम कुछ बोलते नहीं हैं, मैं पूछना चाहता हूं कि कुरान के बारे में डेनमार्क में एक कार्टून बना और 9 लोगों की हत्या हो गई। ये बार-बार सनातन संस्कृति का मजाक उड़ाना, हिंदू धर्म और संतों पर टीका-टिप्पणी करना। साधु-संतों को आतंकी कहना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि मौर्य ने एक बार भरे मंच से कहा था कि जब एसपी की सरकार बनेगी तो रामचरितमानस को बैन कर देंगे। कुरान की कुरीतियों पर मौर्य का एक जवाब नहीं आया है। ये शुद्ध रूप से राजनीतिक रोटी सेंकते हैं।

मौर्य पर कराएंगे FIR

राजू दास ने कहा कि वह संवैधानिक लड़ाई लड़ते हैं। संविधान के तरह उनके खिलाफ FIR दर्ज कराई जाएगी। जिस प्रकार से समाज में कुरीति फैलाकर समाज को बांटने का काम कर रहे हैं वो ठीक नहीं है।

रामचरितमानस पर टिप्पणी करे इतनी हिम्मत किसी की नहीं… नृत्यगोपालदास बोले- संत ही करें राम मंदिर का उद्घाटन

मौर्य क्यों दे रहे हैं रामचरितमानस पर बयान?

राजू दास ने कहा कि चुनाव आ रहा है। हर चुनाव में मौर्य कहते थे कि हम जिसके साथ चले जाते हैं उस पार्टी की सरकार बन जाती है। मौर्य एसपी में गए और एसपी धाराशायी हो गई। वो खुद हार गए। अब जमीन बची नहीं है। अब कोई पूछने वाला नहीं है। पहले कहते थे बीजेपी हिंदू-मुसलमान कर रही है, लेकिन वो योजना उनकी फेल हो गई। अब उनको हिंदू मिल गया है। हिंदू-साधु संत ये सब फ्री में मिल गया है। वो राजनीतिक तरीके से खत्म हो गए हैं। अपनी राजनीतिक रोटी सेंकने के लिए जमीन तलाश रहे हैं। सनातन धर्म संस्कृति को गाली देकर अपनी जमीन तलाश रहे हैं, 2024 में उनको पता चल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *