कौन हैं सुधाकर सिंह, जिन्‍होंने दारा सिंह चौहान को शिकस्त देकर फेल कर दिया बीजेपी का प्लान——————————————–।       

घोसी विधानसभा उपचुनाव में समाजवादी पार्टी ने अपने कद्दावर नेता को चुनावी मैदान में उतारा और उन्होंने जीत का परचम लहरा दिया। सपा का दामन छोड़ बीजेपी में आए दारा सिंह को करारी शिकस्त देते हुए सुधाकर सिंह ने घोसी सीट अपने नाम कर ली है। सुधाकर सिंह दो बार विधायक रह चुके हैं। दारा सिंह चौहान को हराकर सुधाकर सिंह ने बीजेपी को बड़ा झटका दिया है।


घोसी विधानसभा उपचुनाव में समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता सुधाकर सिंह ने जीत का परचम लहरा दिया है। बीजेपी (BJP) के दारा सिंह चौहान को हरा कर सुधाकर सिंह ने इस सीट पर अपना कब्जा जमाया है। सुधाकर सिंह का कई बार टिकट कटा है, लेकिन इस बार सपा ने उन पर भरोसा जताया।

सुधाकर सिंह समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेताओं में से एक हैं। सुधाकर सिंह दो बार विधायक रह चुके हैं। उन्होंने साल 1996 में नत्थूपुर विधानसभा सीट से जीत दर्ज की थी और उसी के साथ ही वह विधायक बने थे। इसके बाद साल 2012 में नत्थूपुर विधानसभा का नाम बदलकर इसका नाम घोसी कर दिया गया। इस बदलाव के साथ ही यहां फिर चुनाव हुआ और इसमें भी सुधाकर सिंह ही विजयी रहे।

दो विधायक रह चुके हैं सुधाकर
साल 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में घोसी सीट से सपा ने एक बार फिर से सुधाकर सिंह को टिकट दिया था लेकिन, उन्हें बीजेपी के फागू चौहान से हार का सामना करना पड़ा था। जुलाई, 2019 में फागू चौहान को बिहार का राज्यपाल बनाया गया तो घोसी विधानसभा सीट खाली हो गई और यहां उपचुनाव हुए। इस बार बीजेपी ने विजय राजभर को उतारा और सपा ने सुधाकर सिंह को ही उतारा था, लेकिन तकनीकी खामियों के चलते उन्हें सपा से टिकट नहीं मिल पाया था। इसके बाद सुधाकर सिंह ने निर्दलीय ताल ठोंकी और उन्हें सपा का समर्थन मिला। हालांकि इन चुनावों में सुधाकर सिंह को हार का सामना करना पड़ा था।

सुधाकर ने अपनाए थे बगावती तेवर


2022 में समाजवादी पार्टी ने सुधाकर सिंह को घोसी की जगह मधुबन से प्रत्याशी बनाया था, लेकिन फिर उनका टिकट कट गया। सुधाकर सिंह की जगह सपा ने फिर उमेश चंद पाण्डेय को चुनाव में खड़ा कर दिया। इसके बाद से सुधाकर सिंह ने बगावती तेवर अपना लिया था। सपा प्रमुख अखिलेश यादव और सपा के लिए वो बगावती बयानबाजी करते रहे, लेकिन पार्टी को उन्होंने नहीं छोड़ा।

2023 में सपा ने जताया भरोसा


साल 2023 में घोसी में उपचुनाव का ऐलान हुआ और समाजवादी पार्टी ने एक बार फिर से सुधाकर सिंह को चुनावी मैदान में उतारा। घोसी में राजनीतिक पकड़ रखने वाले सुधाकर को जनता का समर्थन भी मिला। दारा सिंह चौहान को हराकर उन्होंने बीजेपी को बड़ा झटका दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *